• कोहली ने कहा, ‘चीजें हमारे पक्ष में नहीं रहीं
  • हमें महत्वपूर्ण मौकों को भुनाने की जरूरत
  • एक बार फिर हम योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में नाकाम रहे

दुबई। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने दिल्ली कैपिटल्स के हाथों इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में 59 रन से मिली हार के लिए खराब क्षेत्ररक्षण को दोषी ठहराते हुए कहा कि कैच छोड़ने से मैच नहीं जीते जा सकते। कोहली ने माना कि बीच के ओवरों में अच्छी गेंदबाजी के बाद उन्होंने दिल्ली के बल्लेबाजों को खुलकर रन बनाने का मौका दिया।

कोहली ने कहा, ‘चीजें हमारे पक्ष में नहीं रहीं। उनकी शुरुआत शानदार रही और फिर अगले आठ ओवर में हम वापसी करने में सफल रहे लेकिन अंतिम ओवरों में बाजी हमारे हाथ से निकल गई।’ कोहली को मलाल है कि उनकी टीम की फील्डिंग भी अच्छा नहीं रही। उन्होंने कहा, ‘हमें महत्वपूर्ण मौकों को भुनाने की जरूरत है। हमने मुश्किल कैच नहीं बल्कि बिलकुल आसान कैच टपकाए। एक बार फिर हम योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में नाकाम रहे।’

आगामी मैचों में टीम में बदलाव की संभावना पर कोहली ने कहा, ‘क्रिस (मॉरिस) आज भी खेलने के काफी करीब थे लेकिन टीम में जगह नहीं बना पाए। अगले मैच से पहले हमारे पास चार दिन का समय है और उम्मीद है कि वह उस मैच के लिए तैयार रहेंगे।’ वहीं दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने अंक तालिका के टॉप पर जगह बनाने के बाद कहा कि उनकी टीम आगामी मैचों में भी इस तरह के प्रदर्शन को बरकरार रखना चाहती है। दिल्ली ने मार्कस स्टॉनइिस (26 गेंद, दो छक्के, छह चौके, नाबाद 53) और ऋषभ पंत (37) के बीच चौथे विकेट के लिए 89 रन की साझेदारी की बदौलत चार विकेट पर 196 रन बनाए। सलामी बल्लेबाजों पृथ्वी साव (42) और शिखर धवन (32) ने भी उपयोगी पारियां खेली।

इसके जवाब में तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा (24 रन पर चार विकेट), बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल (18 रन देकर दो विकेट), एनरिच नोर्ट्जे (22 रन पर दो विकेट) और रविचंद्रन अश्विन (26 रन पर एक विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने आरसीबी की टीम नौ विकेट पर 137 रन ही बना सकी। आरसीबी के लिए कप्तान कोहली ने सर्वाधिक 43 रन बनाए। अय्यर ने मैच के बाद कहा, ‘‘पांच में से चार मैच जीतना शानदार है और इसके लिए खिलाड़ियों को बधाई। हम बड़ी जीत के इरादे से उतरे थे और ऐसा करने में सफल रहे। उम्मीद करते हैं कि आगामी मैचों में भी इस तरह के प्रदर्शन को जारी रखने में सफल रहेंगे।’’ अय्यर ने कहा कि उनकी रणनीति स्वच्छंद और निडर होकर खेलने की थी। दिल्ली के कप्तान ने कहा, ‘दबाव के समय खिलाड़ियों ने अच्छा जज्बा दिखाया। हमारी रणनीति स्वच्छंद और निडर होकर खेलने की थी। हमारी टीम में युवा खिलाड़ी हैं जो ऊर्जा से भरे हैं। हमें बस मैदान पर उतरकर अपनी प्रतिभा और कौशल दिखाना है।’ अय्यर ने जीत का श्रेय बल्लेबाजों और गेंदबाजों दोनों को दिया। उन्होंने कहा, ‘मैं किसी एक का पक्ष नहीं लूंगा। हमने बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में अच्छा प्रदर्शन किया।’

स्टॉयनिस और पंत ने डेथ ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की जिससे दिल्ली की टीम अंतिम सात ओवर में 94 रन बटोरने में सफल रही। मैन आफ द मैच चुने गए अक्षर ने कहा कि वह पावर प्ले में गेंदबाजी के लिए तैयार थे। बायें हाथ के इस स्पिनर ने कहा, ‘विकेट से गेंद धीमी आ रही थी और मैं पावर प्ले में गेंदबाजी करने के लिए तैयार था और मैंने इसके लिए तैयारी भी की थी।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने योजना बनाई थी कि मैं गेंद की गति में विविधता लाऊंगा और लाइन तथा लेंथ में भी बदलाव करूंगा।’

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें