Surya dev ki aarti in hindi : श्री सूर्यदेव की आरती जय कश्यप नन्दन, ऊँ जय अदिति नन्दन। त्रिभुवन तिमिर निकंदन, भक्त हृदय चन्दन॥ ऊँ जय कश्यप नन्दन। जय सप्त अश्वरथ राजित, एक चक्रधारी। दुखहारी, सुखकारी, मानस मलहारी॥ ऊँ जय कश्यप नन्दन। जय सुर मुनि भूसुर वन्दित, विमल विभवशाली। अघ-दल-दलन […]

Maa Durga aarti in hindi अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली। तेरे ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ॥ तेरे भक्त जनों पर माता, भीड़ पड़ी है भारी। दानव दल पर टूट पड़ों माँ करके सिंह सवारी। सौ-सौ सिंहो से बलशाली, अष्ट […]

Hanuman aarti hindi : श्री हनुमान जी की आरती आरति कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की।। जाके बल से गिरिवर कांपै। रोग-दोष जाके निकट न झांपै।।अंजनी पुत्र महा बलदाई। संतन के प्रेम सदा सहाई।। आरति कीजै हनुमान लला की… दे बीरा रघुनाथ पठाये। लंका जारि सिया सुधि […]

ॐ जय श्री श्याम हरे , बाबा जय श्री श्याम हरे | खाटू धाम विराजत, अनुपम रुप धरे ॥ ॐ जय श्री श्याम हरे…. रत्न जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुले| तन केशरिया बागों, कुण्डल श्रवण पडे ॥ ॐ जय श्री श्याम हरे…. गल पुष्पों की माला, सिर पर मुकुट […]

श्री संतोषी माता आरती | Santoshi Maa Aarti Hindi   जय संतोषी माता, मैया जय संतोषी माता । अपने सेवक जन को, सुख संपति दाता ॥ जय सुंदर चीर सुनहरी, मां धारण कीन्हो । हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार लीन्हो ॥ जय गेरू लाल छटा छवि, बदन कमल सोहे । […]

Maa Ganga Aarti Lyrics in Hindi | माँ गंगा आरती हिंदी ॐ जय गंगे माता, मैया जय गंगे माता। जो नर तुमको ध्याता, मनवांछित फल पाता। ॐ जय गंगे माता, मैया जय गंगे माता। चंद्र सी ज्योति तुम्हारी, जल निर्मल आता। शरण पड़े जो तेरी, सो नर तर जाता। ॐ […]

Shri Khatu Shyam Chalisa in hindi ।। दोहा ।। गुरू पद पंकज ध्यान धर, सुमिर सच्चिदानन्द। श्याम चौरासी भणत हूं, रच चौपाई छन्द ।। ।। चौपाई ।। महर करो जन के सुखरामी। सांवलशाह खाटू के वासी।। प्रथम शीश चरणन में नाऊँ। कृपा दृष्टि रावरी चाहूँ।। माफ सभी अपराध कराऊँ। आदि […]

Sai Chalisa lyrics in  hindi  : श्री साँई चालीसा   साईं बाबा चालीसा पहले साईं के चरणों में, अपना शीश नमाऊं मैं । कैसे शिर्डी साईं आए, सारा हाल सुनाऊं मैं ॥1॥ शिर्डी साईं बाबा चालीसा कौन हैं माता, पिता कौन हैं, यह न किसी ने भी जाना । कहां […]

Shri Ram Stuti hindi & English Lyrics त्रेता युग में जन्में भगवान विष्णु के सातवें अवतार श्री रामचंद्र जी ने अयोध्या में राजा दशरथ के यहां जन्म लिया। इनकी माता कौशल्या थी। इसीलिए इन्हें कौशल्यानंदन भी कहा जाता है। जो भी भक्त श्री राम जी की आराधना करते हैं उन्हें […]

All Post