Shiva Natraj Avtar according to Skandpuran in Hindi धार्मिक पुराणोंनुसार के अनुसार जब सृष्टि की रचना हुयी तो ब्रह्मनाद से शिव (Shiva) प्रकट हुए तो उनके साथ सत, रज और तम गुणों का भी जन्म हुआ, जो शिव (Shiv) के तीन शूल यानी त्रिशूल कहलाए। मगर क्या आप जानते हैं […]

Shravan 2019: In the month of Shravan, Shri Ganesh also gives a boon : श्रावण माह मूल रूप से भगवान शिव का माना जाता है परन्तु पुराणों के अनुसार इसी माह में श्री गणेश, माता पार्वती और श्री कृष्ण की पूजा भी शुभ फलदायक होती है। माना जाता है कि […]

मध्य प्रदेश के सतना जिले का एक छोटा सा नगर मैहर, जहाँ हिन्दूओं का प्रसिद्ध तीर्थस्थल शारदा माँ का प्रसिद्ध मन्दिर है। कैमूर तथा विंध्य की पर्वत श्रेणियों से घिरा तमसा के तट पर त्रिकूट पर्वत की पर्वत मालाओं के मध्य 600 फुट की ऊंचाई पर स्थित यह मंदिर एक […]

Rudraksha benefits in hindi : रुद्राक्ष (Rudraksha) दो शब्दों के मिलने से बना है जिसमें पहला शब्द है रुद्र (Rudra) और दूसरा है अक्ष (aksh)। रुद्र का अर्थ होता है शिव और अक्ष का अर्थ है आंसू। यही वजह है कि माना जाता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान रुद्र […]

Vasuki naag story in hindi: कौन है वासुकि नाग (Vasuki Naag) जो कभी समुद्र मंथन के समय पर्वत को बांधने वाली रस्सी बनते हैं, तो कभी त्रिपुरदाह के समय शिव (Shiva) के धनुष की डोर। क्यों आखिर वासुकि नाग भगवान शिव (Lord Shiva) के गले में लिपटे रहते हैं आइए […]

भगवान शिव जिन्हें कोई भोले बाबा कहता है, तो कोई नील कंठ, कोई उन्हें महाकाल कहता है तो कोई प्रलयंकारी, वे कभी इतने भोले हैं कि भांग और धतूरे के भोग से प्रसन्न हो जाते हैं और कभी उनका प्रकोप कामदेव को पल में जलाकर भस्म कर देता है। भगवान […]

Worship Shiva with this method in the Savan Month In hindi सावन का महीना शुरू हो चुका है, पुराणों में इस माह की बड़ी महिमा बताई गई है। इस माह में भक्तों को शिवकृपा सुलभ ही प्राप्त हो जाती है। ऐसे में यदि आप भी भगवान शिव (Shiv) को प्रसन्न […]

error: खुलासा डॉट इन khulasaa.in, वेबसाइट पर प्रकाशित सभी लेख कॉपीराइट के अधीन हैं। यदि कोई संस्था या व्यक्ति, इसमें प्रकाशित किसी भी अंश ,लेख व चित्र का प्रयोग,नकल, पुनर्प्रकाशन, खुलासा डॉट इन khulasaa.in के संचालक के अनुमति के बिना करता है , तो यह गैरकानूनी व कॉपीराइट का उल्ल्ंघन है। यदि कोई व्यक्ति या संस्था करती हैं तो ऐसा करने वाला व्यक्ति या संस्था पर खुलासा डॉट इन कॉपी राइट एक्त के तहत वाद दायर कर सकती है जिसका सारे हर्जे खर्चे का उत्तरदायी भी नियम का उल्लघन करने वाला व्यक्ति होगा।