पंडित जी प्रवचन कर रहे थे – धन तो हाथ का मैल है जी। यह समस्त पापों का कारण है। यह व्यक्ति के विवेक का चीर हरण कर लेता है। और विवेकहीन मनुष्य मनुष्य कहां रहा? इसलिए भगवती लक्ष्मी का वाहन उलूक है। हे भक्तों, आप धन के लिए प्रार्थना […]