• फिल्म इंडस्ट्री में अलग-अलग किरदारों से  अपनी एक अलग पहचान बनाई
  • विजय सेतुपति अपने परिवार को एक अच्छी जिंदगी देना चाहते थे
  • वह भारत छोड़ दुबई इसलिए ही गए क्योंकि उन्हें दुबई में चार गुणा सैलरी मिल रही थी

चेन्नई 16 जनवरी (एजेंसी)। तमिलनाडु के राजापलायम में जन्मे विजय सेतुपति जब छठी क्लास में थे, तब वह परिवार के साथ चेन्नई आ गए थे। उन्होंने कोदाम्बक्कम स्थित एमजीएम हाई सेकेंडरी स्कूल से पढ़ाई की है। स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने धनराज बैद जैन कॉलेज से अपनी ग्रेजुएशन की। एक इंटरव्यू में विजय सेतुपति ने बताया था कि वह शुरू से ही पढ़ाई में अच्छे नहीं थे। वह एक एवरेज स्टूडेंट हुआ करते थे।

यह भी पढ़ें : सोनू सूद का कपड़ों के बिजनस से है काफी खास कनेक्शन

आज विजय सेतुपति (Vijay Sethupathi) एक एक्टर, प्रोड्यूस और डायलॉग राइटर भी हैं, जिन्होंने साउथ फिल्म इंडस्ट्री में अलग-अलग किरदारों से  अपनी एक अलग पहचान बनाई है। विजय सेतुपति किसी फिल्मी बैकग्राउंड से नहीं आते हैं। उनका एक साधारण सा परिवार था, जिसे समय पर दो वक्त का खाना मिल जाए, उसी में वह खुश रहता था। हालांकि, विजय सेतुपति अपने परिवार को एक अच्छी जिंदगी देना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने सेल्समैन से लेकर अकाउंटेंट तक की नौकरी भी की।

यह भी पढ़ें : Tamilrockers 2020 HD Movies Download, Tamilrockers Hindi ,Tamil, Telugu, Malayalam Movies Download, Tamilrockers Tamil Dubbed Movie Download is Illegal – tamilrockers.wc , www.tamilrockers.wc , www.tamilrockers .com , tamil rockers.com , tamilrockers telugu , www.tamilrockers , tamilrockers , tamilrockers.co , www.tamilrockers.com

बता दे कि सिनेमा में उनकी बचपन से ही रुचि थी। उन्होंने काफी कम उम्र में फिल्मों के लिए ऑडिशन देना शुरू भी किया था, लेकिन उन्हें तब किसी ने मौका नहीं दिया। विजय जब 16 साल के तब उन्होंने फिल्म ‘नम्मावर’ के लिए भी ऑडिशन दिया था, लेकिन उन्हें यह कहकर रिजेक्ट कर दिया गया कि उनकी लंबाई कम है। विजय सेतुपति का जीवन बहुत ही संघर्ष भरा रहा था। छोटी उम्र में ही उन्होंने एक रिटेल स्टोर पर सेल्समैन के तौर पर काम शुरू कर दिया था। इतना ही नहीं उन्होंने एक फास्ट फूड जॉइंट पर कैशियर के तौर पर काम किया था। इसके बाद वह दुबई चले गए, ताकि वहां अच्छी नौकरी कर अपने परिवार को वह सब दे सकें, जो कि वह सेल्समैन और कैशियर की जॉब में कमा कर नहीं दे पा रहे थे।

यह भी पढ़ें : कोविड 19 और शूटिंग में बिजी होने के कारण सलमान खान को मिली कोर्ट से हाजिरी माफी

दुबई में उन्हें अकाउंट की नौकरी मिली। वह भारत छोड़ दुबई इसलिए ही गए क्योंकि उन्हें दुबई में चार गुणा सैलरी मिल रही थी। इस सैलरी में वह अपने तीन बहन-भाइयों की अच्छी देखभाल कर सकते थे। कुछ साल यहां नौकरी करने के बाद वह वापस भारत लौट आए। वह अपनी इस नौकरी से खुश नहीं थे। इसके बाद विजय ने चेन्नई में एक थिएटर ग्रुप जॉइन किया, जहां पर वह एक्टर के साथ-साथ अकाउंटेंट के तौर पर भी काम करते थे। यहां उन्होंने एक्टिंग के गुणों को अच्छे से सीखा। यहां से उनकी बैकग्राउंडर एक्टर के तौर पर शुरुआत हुई, फिर वह हीरो के दोस्त के रूप में नजर आने लगे, टीवी में भी काम किया और फिर उन्हें सबसे बड़ा ब्रेक मिला रामासामी की फिल्म Thenmerku Paruvakaatru से।

यह भी पढ़ें :  साउथ के सुपरस्टार विजय सेतुपति करने जा रहे हैं एक साइलेंट फिल्म

विजय सेतुपति ने इस फिल्म में लीड रोल निभाया था। इस फिल्म को तीन राष्ट्रीय पुरस्कार मिले थे। यहां से सेतुपति के करियर ने रफ्तार पकड़ी और उन्होंने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। विलने की भूमिका से लेकर ट्रांसजेंडर के किरदार तक, विजय सेतुपति ने अपने हर किरदार को जिया है। फिर वह चाहे सुपर डिलक्स का शिल्पा हो या फिर चाहे विक्रम वेधा का वेधा। विजय सेतुपति ने हर किरदार में बेहतरीन अभिनय करके दिखाया है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें