• शुक्रवार की 13 तारीख यानी कि Friday the 13th को बेहद दुर्भाग्‍यशाली दिन माना जाता है
  • शुक्रवार की 13 तारीख को अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना में ज्‍यादातर लोग काम पर जाना पसंद नहीं करते
  • इसी दिन ईसा मसीह ने अपना आखिरी सपर यानी कि रात का भोजन 13 लोगों के साथ किया था
  • 13 अक्‍टूबर 1989 को अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस बुरी तरह से क्रैश हो गया था

नई दिल्ली, 13 मार्च। डर का होना एक स्वाभाविक प्रतिक्रिया है परन्तु कुछ चीज़े, जगह या तारीख अक्सर भय का पर्याय बन जाए तो उसके पीछे कोई न कोई कारण जरुर होता है । ऐसा ही कुछ शुक्रवार की 13 तारीख यानी कि Friday the 13th के लिए भी माना जाता है, जिसे बेहद दुर्भाग्‍यशाली दिन माना जाता है । कुछ लोग इसे अंधविश्‍वास भी मानते है  परन्तु दुनिया में कई लोग ऐसे हैं जिनके लिए 13 तारीख खासकर जिस दिन शुक्रवार को खराब मानते हैं, जिसके चलते इसे ब्लैक फ्राइडे (Black Friday) का नाम भी दिया गया है । पर आखिर शुक्रवार की 13 तारीख (Friday the 13th) को बदकिस्‍मत क्‍यों माना जाता है ? तो चलिए खुलासा डॉट इन में इसके बारे में विस्तार से ।

Friday the 13th or Black Friday

ये कोई आज की बात नहीं है बाइबल के जमाने से ही शुक्रवार की 13 तारीख (Friday the 13th) को अशुभ माना जाता है क्योंकि इसी दिन ईसा मसीह ने अपना आखिरी सपर (Last Supper) यानी कि रात का भोजन 13 लोगों के साथ किया था और अगले दिन उनकी मौत हो गई थी और  प्रभु ईशु के समय में 13 मेहमान आए थे । माना जाता है कि ये 13 लोग विश्वासघाती थे और उन लोगों की वजह से ही प्रभु ईशु के साथ इतनी बड़ी घटना हुई थी ।

इसके अलावा इस दिन को लेकर एक और चर्चित वाक्या है । इसी दिन रोमन कैथोलिक चर्च के पोप, फ्रांस के राजा के साथ मिलकर एक मठवासी सैन्य आदेश को सजा सुनाते हैं, जिसे नाइट्स टेम्प्लर के रूप में जाना जाता था और उनके नेता ने यातना देने के साथ ही क्रूस पर चढ़ने का आदेश दिया  था ।

मान्यता यह भी है कि  शुक्रवार के दिन ही जीसस को सूली पर चढ़ाया गया था । यहीं कारण है कि जिस दिन 13 तारीख और शुक्रवार मिल जाते हैं उस दिन दुर्भाग्य पैदा करते हैं । आपको जानकार हैरानी होगी कि अमेरिका के लोग तो इस तारीख और दिन के मिलन को लेकर काफी डरते हैं। डर इस कदर तक छाया है कि कई मनोवैज्ञानिकों की मदद तक ली जाती है ।

ये तो थी बाइबिल के ज़माने की बात, पर यदि बाइबिल से  अलग जुड़े किस्से देखे तो यकीनन आप भी शुक्रवार की 13 तारीख को दुर्भाग्यपूर्ण मानने लगेंगे । चलिए जानते है शुक्रवार की 13 तारीख (Friday the 13th) को कब क्या हुआ –

  •  मशहूर अमेरिकी रैपर Tupac Shakur की मौत शुक्रवार के दिन 13 सितंबर 1996 को हुई थी,  मौत से छह दिन पूर्व उन्‍हें गोलियां लगी थीं ।
  • अनुमानित है कि शुक्रवार की 13 तारीख को अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना में ज्‍यादातर लोग काम पर जाना पसंद नहीं करते, जिसके कारण 700 मिलियन पाउंड्स का नुकसान होता है । 13 अक्‍टूबर 1989 को अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस बुरी तरह से क्रैश हो गया था जो कि डाउ जोंस के इतिहास में  दूसरा सबसे बड़ा झटका था  ।
  • 13 अक्‍टूबर 1972, दिन शुक्रवार, दुनिया की सबसे लम्बी पर्वत श्रृंखला ऐंडीज में एक प्‍लेज दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया था जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई | इस हादसे में  16 लोग बच गए थे उन्‍हें खुद को जिंदा रखने के लिए मृतकों को अपना भोजन बनाना पड़ा  ।
  • 13 नवंबर 1970, दिन शुक्रवार, बांग्‍लादेश और भारत को भोला साइक्‍लोन ने अपना निशाना बनाया था जिसमे 5 लाख लोग मारे गए थे ।
  • 13 जनवरी 2012, दिन शुक्रवार,  Costa Concordia नामक जहाज के डूबने से 32 लोगों की मौत हो गई हालाँकि इस क्रूज में उस वक्‍त चार हजार लाग सवार थे जब वह इटली के समुद्र तट के पत्‍थर से टकरा गया था।

इसी तरह शुक्रवार की 13 तारीख की ढेरों घटनाओं से इतिहास भरा हुआ । इसे मात्र संयोग या अंधविश्‍वास ही माना जा सकता है इसलिए  डरने वाली कोई बात नहीं है | मनुष्य जीवन में कुछ न कुछ होता ही रहता है, कभी अच्‍छा तो कभी बुरा । ऐसे में किसी तारीख या दिन विशेष से कोई लेना-देना नहीं होता ।

 

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें