Warning: A non-numeric value encountered in /var/www/khulasaain/wp-content/plugins/new-royalslider/classes/rsgenerator/NewRoyalSliderGenerator.php on line 339

यूं तो भारत क्षेत्रफल के लिहाज से सातवें नंबर पर आता है, लेकिन दुनिया में कुछ ऐसे देश भी हैं जिनका पूरा क्षेत्रफल भारत के किसी छोटे शहर से भी कम हैं। आइए जानते हैं खुलासा में ऐसे ही कुछ देशों के बारे में

untitled-collage-2-4

untitled-collage-2-4

vatican-city

vatican-city

वैटिकन सिटी (Vatican city) - वेटिकन सिटी संसार का सबसे छोटा देश है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 0.44 वर्ग किलोमीटर है। अगर इस देश के क्षेत्रफल की तुलना की जाए तो यह देश भारत के किसी शहर या जिले के बराबर होगा। इस देश की खूबसूरती इसकी खास पहचान है।

liechtenstein

liechtenstein

लिचटेंस्टेंन (Liechtenstein) - इस देश का क्षेत्रफल 160.04 वर्ग किलोमीटर है। यह देश यूरोप में बसा है।

maldives

maldives

मालदीव (Maldives)- इस देश का कुल क्षेत्रफल 298 वर्ग किलोमीटर है। इस देश को घूमने के शौकिन लोगों के लिए सबसे अच्छा माना जाता है।

marshall-islands

marshall-islands

मार्शल आईलैंड्स (Marshall Islands)- इस देश का क्षेत्रफल 181 वर्ग किलोमीटर है। यह देश 1986 में बना था। इस देश की अपनी कोई सेना नहीं है, इस देश की सुरक्षा की जिम्मेदारी अमेरिका की है।

monaco-city

monaco-city

मोनाको (Monaco)- मोनाको देश समुद्र के किनारे बसा है। इस देश का क्षेत्रफल 2.02 वर्ग किलोमीटर है। यह देश यूरोप में बसा है।

nauru-country

nauru-country

नौरू Nauru - इस देश का क्षेत्रफल 21.3 वर्ग किलोमीटर है। इस देश की अपनी कोई सेना नहीं है।

saint-kitts-and-nevis

saint-kitts-and-nevis

सैंट किट्स एंड नेविस (Saint Kitts and Nevis) - इस देश का क्षेत्रफल 261 वर्ग किमी है। यह अमेरिका महाद्वीप का सबसे छोटा देश है।

san-marino

san-marino

सैन मारिनो ( San Marino)- इस देश का क्षेत्रफल 61 वर्ग किलोमीटर है। यह देश दुनिया के प्राचीन देशों में से एक है।

tuvalu

tuvalu

तुवालु (Tuvalu)- यह देश 1978 में ब्रिटेन से अलग होकर बना था। इस देश का क्षेत्रफल 26 वर्ग किलोमीटर है।

Read all Latest Post on खेल sports in Hindi at Khulasaa.in. Stay updated with us for Daily bollywood news, Interesting stories, Health Tips and Photo gallery in Hindi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए khulasaa.in को फेसबुक और ट्विटर पर ज्वॉइन करें